Header Ads Widget

Responsive Advertisement

फुनगा चौकी बना असामाजिक तत्वों का गढ़, चौकी में रहता है डेरा

चौकी के सामने स्थित दुकान में समान फेंक कब्जा कर लूट की शिकायत, पुलिस मौन 
फुनगा । 

जिले में अपराधिक गतिविधियों में जहां लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है, वहीं अपराधों में लगाम कसने की जगह पुलिस द्वारा अपराधियों को ही उल्टा संरक्षण देने में लगी हुई है, फुनगा चौकी के सामने अवैध शराब, सट्टा एवं अन्य अपराधिक मामलो का गढ़ फुनगा चौकी में चल रहा है। जहां रात के समय बकायदे चौकी प्रभारी राजपाल जादौन द्वारा अपराधियों के साथ मीटिंग में बैठे नजर आते है। फरियादी की शिकायत पर फुनगा चौकी में बकायदा फीस निर्धारित की गई जो चौकी में पदस्थ एएसआई श्री शर्मा द्वारा वसूला जाने की चर्चा जोरो पर है। एैसा की एक मामले में मनोज कुमार मिश्रा ने 2 जून को पहुंच बिल्डिंग की दुकान में दिन दहाड़े लूट करने की शिकायत दर्ज करवाई, लेकिन चौकी प्रभारी द्वारा फरियादी से आवेदन लेकर बिना किसी कार्यवाही के फरियादी को पावती देकर अपने कर्तव्यों से इतिश्री कर लिया। वही प्रार्थी ने बिना कार्यवाही के दुकान से जबरन फेंका गया समान को उठाने से भी मना कर दिया है ।
यह है मामला
मनोज कुमार मिश्रा पिता गोविंद प्रसाद मिश्रा निवासी ग्राम कोलमी हाल मुकाम फुनगा ने 2 मई की दोपहर फुनगा चौकी पहुंच शिकायत करते हुए बताया की वह रामसुहावन गुप्ता के मकान को किराया से लेकर पिछले 3 वर्षो से से बिल्डिंग की दुकान चला रहा हॅू। जहां मै अपने काम से अनूपपुर चला गया इस बीच दुकान में गुड्डा पनिका पिता रामभजन पनिका निवासी कोलमी जो मेरे दुकान में था, जहां दोपहर लगभग 12 बजे प्रेमलाल, रामलाल, छवि लाल, सतेन्द्र केवट, कुबेर केवट व लालदास यादव उनके साथ पहुंच अचानक गुड्डा पनिका के साथ मारपीट कर अपशब्दो का प्रयोग करते हुए जान से मारने की धमकी देते हुए दुकान का पूरा समान बाहर फेंक दिए तथा दुकान में पैसे की पेटी जिसमें 20 हजार रूपए  नगद थे को लालदास यादव पेटी सहित अपने साथ ले गया। जहां पवन गुप्ता एवं अजय गौतम ने लालदास को रूपए की पेटी अपने साथ ले जाते देखा है।
पुलिस का बेतुका जवाब, कहा तुम भी करो मारपीट
मामले में शिकायत करने पहुंचे मनोज कुमार मिश्रा ने फुनगा चौकी में शिकायत कर जबरन कब्जा करने तथा दुकान का पूरा समान बाहर फेंके जाने की शिकायत की तो देश भक्ती जन सेवा का पाठ पढ़ाने वाली पुलिस ने बेतुका जवाब दिया। जिसमें फुनगा चौकी में पदस्थ सहायक उपनिरीक्षक रामभुवन शर्मा ने कार्यवाही करने की बजाय फरियादी को उल्टा दुकान में कब्जे किए गए लोगो के साथ जाकर मारपीट करने की बात कहीं। वहीं प्रार्थी घंटो फुनगा चौकी में बैठ पुलिस द्वारा कार्यवाही करने का इंतजार करता रहा, लेकिन पुलिस मौके पर पहुंचकर कार्यवाही करने को छोड प्रार्थी को शिकायत की पावती देकर चौकी से चलते बनने की बात कह डाली।
सड़क में फेंका समान, नही पहुंची पुलिस
जानकारी के अनुसार पुलिस अधीक्षक जगह सिंह राजपूत के चार खास पुलिस कर्मियों में तीसरे नंबर पर फुनगा चौकी में पदस्थ सहायक उप निरीक्षक राजपाल जादौन का नाम जिले के सुर्खियों में है। वही कब्ज़ा के बाद लूट की शिकायत चौकी के सामने की शिकायत पर पुलिस मौके पर पहुंचना तक उचित नहीं समझी, फुनगा चौकी प्रभारी द्वारा अपने क्षेत्र में सट्टा, जुआं, रेत, शराब माफियाओं के साथ मिल अवैध कार्यो को करने के लिए पूरी छूट दिए हुए है। वहीं रात के समय फुनगा चैकी में फुनगा प्रभारी के साथ इन आसामजिक तत्वो का बैठने उठने की खबर भी फुनगा में चर्चा का विषय बना रहता है। बावजूद इसके अपराधियों पर लगाम लगाने की बजाय फुनगा चौकी प्रभारी ऐसे तत्वो को संरक्षण देने में लगे हुए है।
इनका कहना है
पूरे मामले की तत्काल जानकारी लेकर दोषियों के विरूद्ध कार्यवाही की जाएगी।
एस.पी. सिंह, आईजी शहडोल


Post a Comment

0 Comments