Header Ads Widget

Responsive Advertisement

लॉकडाउन अवधि में बिना अनुमति के यात्रा करने वाले सुनील कुमार अवधिया तत्काल प्रभाव से निलम्बित

लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों, आगमन की जानकारी छुपाने वालों पर होगी कठोर दंडात्मक कार्यवाही - कलेक्टर

अनूपपुर: अप्रैल 17,2020


कोरोना वायरस पर प्रभावी नियंत्रण हेतु अनूपपुर सहित 03.05.2020 तक के लिए संपूर्ण भारत में लॉकडाउन घोषित है। उक्त के बावजूद भी सुनील कुमार अवधिया, लेखापाल जनपद पंचायत कोतमा द्वारा बिना किसी अनुमति के अपने निजी वाहन क्रमांक सी जी 16 बी 1446 वैगन आर में EMERGENCY MEDICAL का पम्पलेट लगाकर दिनांक 13.04.2020 को कोतमा से अपने पुत्र अमित अवधिया जो कि देवास में था, को कटनी से लाकर बिना मेडिकल चेकअप के अपने घर में रखा गया था, जिसकी पुष्टि अनुविभागीय अधिकारी, कोतमा द्वारा की गयी है। श्री अवधिया द्वारा जिसकी सूचना न तो थाने में और ना ही अनुविभागीय अधिकारी कार्यालय कोतमा में दी गयी। यह कृत्य आपदा प्रबंधन अधिनियम-2005 की धारा-51 (ख) के प्रावधान एवं म.प्र. सिविल सेवा (आचरण) नियम 1965 के नियम 3 के विपरीत होने से दण्डनीय है। उक्त पर संज्ञान लेते हुए कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने सुनील कुमार अवधिया, लेखापाल जनपद पंचायत कोतमा को म.प्र. सिविल सेवा (वर्गीकरण, नियंत्रण तथा अपील) नियम 1966 के नियम 9 के तहत तत्काल प्रभाव से निलंबित किया है। निलंबन अवधि में श्री अवधिया का मुख्यालय कार्यालय अनुविभागीय अधिकारी (राजस्व) कोतमा, जिला अनूपपुर किया जाता है, तथा इन्हे नियमानुसार जीवन निर्वाह भत्ता देय होगा।

कलेक्टर एवं ज़िला दंडाधिकारी चंद्रमोहन ठाकुर ने स्पष्ट किया है कि जो भी व्यक्ति लॉकडाउन का उल्लंघन करेगा, अपने आगमन की जानकारी छुपाएगा, चाहे वह कोई भी हो, सम्बंधित पर कठोर दंडात्मक कार्यवाही की जाएगी।

Post a Comment

0 Comments