Header Ads Widget

Responsive Advertisement

आयुक्त शहडोल एवं रीवा संभाग डॉ भार्गव ने किया ज़िला चिकित्सालय का निरीक्षण

आइसोलेशन वार्ड सहित स्वास्थ्य सुविधाओं एवं साफ़ सफ़ाई का किया मुआयना
स्वास्थ्य विभाग के सभी अधिकारियों कर्मचारियों को मानक सावधानियाँ बरतने के दिए निर्देश
मरीज़ों एवं परिजनों को दी अनिवार्य रूप से सोशल डिस्टेंसिंग के पालन एवं मुँह और नाक को ढँककर रखने की समझाइश
पृथक फ़्लू ओपीडी में स्थापित कोरोना विस्क की आयुक्त ने की सराहना

अनूपपुर : अप्रैल 22, 2020

आयुक्त शहडोल एवं रीवा संभाग डॉ अशोक कुमार भार्गव ने ज़िला चिकित्सालय का निरीक्षण कर कोरोना संक्रमण मरीज़ों हेतु स्थापित आइसोलेशन वार्ड एवं अन्य स्वास्थ्य सुविधाओं का निरीक्षण किया। इस दौरान आपने स्वास्थ्य विभाग के सभी कर्मचारियों को अनिवार्य रूप से हर समय कोरोना संक्रमण से संरक्षण हेतु मानक सावधानियों का पालन करने के निर्देश दिए।
    आयुक्त ने लिए व्यवस्थाओं का जायजा
डॉ भार्गव ने आइसोलेशन वार्ड में स्थापित कोरोना के क्रिटिकल मरीज़ों हेतु 3 वेंटिलेटर सुविधायुक्त बेड एवं 36 आइसोलेशन बेड का निरीक्षण किया। आपने निर्देश दिए किसी भी स्थिति में आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किए जाने वाले व्यक्तियों का सम्पर्क अन्य मरीज़ों एवं उनके परिजनों से नही होना चाहिए। उनके रहने खाने एवं प्रसाधन की व्यवस्थाएँ पूर्णतया पृथक हों एवं नियमित रूप से सैनिटाईजेशन की व्यवस्था की जानी चाहिए।

डॉ भार्गव ने ज़िला चिकित्सालय में उपस्थित नर्स एवं सहायक स्टाफ़ से पीपीई किट की उपलब्धता की जानकारी ली, जिस पर स्टाफ़ एवं नर्स द्वारा जानकारी दी गयी उन्हें पर्याप्त मात्रा में पीपीई किट उपलब्ध कराया गया है। आपके द्वारा कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर को पीपीई किट एवं अन्य आवश्यक उपकरणो की उपलब्धता पर निगरानी रखने एवं आपूर्ति सुनिश्चित बनाए रखने के निर्देश दिए गए।

डॉ भार्गव द्वारा ज़िला चिकित्सालय के सामान्य वार्ड में इलाज कराने के लिए आए हुए मरीज़ों एवं उनके परिजनों से चर्चा की गयी एवं समझाइश दी गयी कि हर समय मुँह और नाक को मास्क अथवा गमछे आदि से सदैव ढँककर रखें, आपस में सदैव 1 मीटर की सामाजिक दूरी बनाकर रखें।

ज़िला चिकित्सालय में सर्दी, खाँसी के लिए पृथक से स्थापित फ़्लू ओपीडी का आयुक्त द्वारा निरीक्षण किया गया एवं अब तक प्राप्त प्रकरणों की जानकारी ली गयी। इस दौरान आपने नवाचार के तौर में कोरोना वॉक इन सैम्पल कलेक्शन कियोस्क (विस्क) का निरीक्षण किया। सिविल सर्जन डॉ एस॰सी॰ राय ने जानकारी दी कि इस नवाचार के माध्यम से कम पीपीई का इस्तेमाल कर पूरी सुरक्षा के साथ बड़ी संख्या में कोरोना जाँच हेतु सैम्पल लिए जा सकते हैं। डॉ भार्गव द्वारा इस नवाचार की सराहना की गयी। डॉ भार्गव द्वारा आमजन की सुविधा हेतु रैम्प में रेलिंग लगाने एवं टायलेट से किसी भी स्थिति में जल बाहर न जा सके इस हेतु दरवाज़े में आवश्यक व्यवस्था हेतु निर्देश दिए गए।

कायाकल्प के दौरान हुए कार्य की वजह से ज़िला चिकित्सालय कोरोना से लड़ाई हेतु आज अधिक सशक्त - कलेक्टर

कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने संभागायुक्त डॉ भार्गव को अवगत कराया कि ज़िला चिकित्सालय में कायाकल्प के दौरान स्वच्छता एवं सफ़ाई व्यवस्था को दुरुस्त एवं सुदृढ़ किया गया है। जिसका लाभ हमें कोरोना संक्रमण से लड़ाई में प्राप्त होगा। आपने कहा ज़िला चिकित्सालय के आइसोलेशन वार्ड में सैनिटाईजेशन सुनिश्चित करने हेतु हर दिन अलग रंग के चादर बिछाने के निर्देश दिए गए हैं । इस व्यवस्था की डॉ भार्गव द्वारा प्रशंसा की गयी। आपने कहा इन्हीं बारीक किंतु महत्वपूर्ण बातों पर ध्यान रख अमल करने से इस संक्रमण के ख़तरे से निपटा जा सकता है।

इस दौरान डीआईजी शहडोल रेंज पी॰एस॰उईके, पुलिस अधीक्षक किरणलता केरकेट्टा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ बी॰डी॰ सोनवानी सहित प्रशासनिक, पुलिस एवं स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी एवं स्टाफ़ उपस्थित रहे।

Post a Comment

0 Comments