Header Ads Widget

Responsive Advertisement

संकट की घड़ी में पत्रकार न्यामुद्दीन अली ने रक्तदान कर पीड़ित महिला की बचाई जान,26वीं बार रक्तदान कर दिया मानवता का मिसाल

अनूपपुर-6 जून 2020

रक्तदान जीवनदान के नारे को साकार करते हुए अनूपपुर जिले के युवा पत्रकार ने संकट की घड़ी में रक्तदान करके एक पीड़ित महिला की मदद की निश्चित तौर पर ऐसे समय पर डूबते को जहां तिनके के सहारे की जरूरत होती है वही रक्तदान करके किसी के जीवन को बचाने का पुनीत कार्य करना अपने आप में ही सबसे बड़ा परोपकार होता है युवा पत्रकार ने वैसे तो हमेशा लोगों की मदद के लिए काम किया है लेकिन रक्तदान करके उसने सबसे बड़ा दान का काम किया है जिला चिकित्सालय उपचार के भर्ती महिला लक्ष्मी की हालत नाजुक देखते हुए, डॉक्टरो ने खून की कमी बताई, जिसके बाद उसके पति लखन आनन-फानन में बहुत परेशान हो गया, जब उसे रक्तदाता नही मिले तो उसने स्वयं रात्रि में तत्काल अपना रक्त देकर ईलाज शुरू रखा, जिसके बाद यह बात पत्रकारो तक पहुंची, जहां सुबह विभिन्न ग्रुपो में संदेश भेजकर अपील की, जिसके बाद अनादि टीवी के पत्रकार नियामुद्दीन अली ने जिला चिकित्सालय पहुंच कर 26वीं बार रक्तदान करते हुए लक्ष्मी व लखन का सहयोग किया। ज्ञात हो कि नियामुद्दीन सुबह अपने पारिवारिक कार्य से कहीं गये हुए थे, जैसे ही सूचना मिली, फोन कर समय मांगा और 3 घंटे बाद जिला चिकित्सालय पहुंच कर रक्तदान किया, इस अनोखी पहल के लिए लोगों ने बधाई भी दी। गौरतलब हो कि नियामुद्दी अली मदद के लिए हमेशा आगे आते रहे है, एवं उनके जीवन में विपप्ति में सभी का साथ देना ही मूल्यवान है, 6 जून को जिला चिकित्सालय में 26वीं बार रक्तदान कर एक बार फिर उन्होने साबित कर दिया कि मानवता ही जीवन है।

Post a Comment

0 Comments