Header Ads Widget

Responsive Advertisement

कालरी कर्मचारी ने घर में लगाई फांसी मामला -- घरेलू तनाव

भालूमाड़ा-30 जून 2020
सुरेश शर्मा 
✍✍✍

 एसईसीएल जमुना कोतमा क्षेत्र अंतर्गत गोविंदा क्षेत्र के मीरा खदान में मैंने मैकेनिकल डिपार्टमेंट में पदस्थ 59 वर्ष काली कर्मचारी ने घरेलू तनाव की वजह से घर में फांसी लगा ली।
       पुलिस से मिली जानकारी में भालूमाडॉ वार्ड क्रमांक 17 हालोब्लाक  में रहने वाले कालरी कर्मचारी एहसान उल हक पिता स्वर्गीय मकबूल हक उम्र लगभग 59 वर्ष ने दिनांक 30 जून को सुबह लगभग 7:30 - 8:00 बजे के बीच अपने कालरी आवाज में पाइप में दुपट्टे के फंदे से फांसी लगा लिए जिससे उनकी मौत हो गई
     घटना के संबंध में पुलिस ने बताया मृतक अपनी पत्नी के साथ कालरी आवास में रहते थे और घटना दिनांक को सुबह उठकर मुंह हाथ धोकर  चाय पी कर अपने कमरे में बैठे हुए थे उसी समय उनकी पत्नी पानी भरने के लिए बाहर आंगन तरफ आ गई और वह काम में व्यस्त हो गई इसी बीच मृतक ने अपने कमरे का दरवाजा अंदर से बंद कर घर में लगे पंखे की पाइप में दुपट्टा से फंदा बनाकर झूल गए लगभग आधे घंटे बाद जब उनकी पत्नी बाहर का काम पानी भरकर साफ सफाई करके अंदर आई उन्हें लगा कि उनके पति आराम कर रहे हैं उसने दरवाजा खोलना चाहा तो दरवाजा नहीं खुला फिर उन्होंने आवाज दी उसके बाद भी कोई आहट नहीं सुनाई पड़ी तब घबराकर उन्होंने जोर-जोर से दरवाजा पीटा तब तक आस पड़ोस के लोग भी आ गए उन्होंने भी काफी प्रयास किया लेकिन दरवाजा नहीं खुला डर और शंका के कारण लोगों ने दरवाजे को थोड़ा तो देखें कि एहसान उल हक अपने बेड में कुर्सी के सहारे ऊपर फंदे पर झूल रहे हैं तब तक पूरे मोहल्ले में इस दुखद घटना से लोग सन्न रह गए बताया गया कि मृतक के बच्चे भी हैं जो  अलग यही भालूमाडॉ में ही रहते हैं उनका पूरा परिवार है जिसने भाई वह अन्य लोग भी हैं यह भी ज्ञात हुआ कि कल बाजार के लिए निकले थे तो कहीं पर मोटरसाइकिल से वह गिर भी गए थे और उनको हल्की सी पैर में चोट भी लगी थी और कुछ समय से वह अस्वस्थ भी रहते थे आज सुबह भी उनके पैर में चोट लगने के कारण उनकी पत्नी ने सहारा देकर उनको कमरे से बाहर लाकर ब्रश मंजन  करवाया और फिर उन्हें कमरे में बैठा कर चाय भी दिए दी तब  एहसान उल हक ने बताया कि मैं ठीक हूं थोड़ा सा आराम करना चाहता हूं तब पत्नी ने कहा ठीक है आप आराम कीजिए तब तक पानी चल रहा है भर लेती हूं यह वाक्य सुबह लगभग 7:30 से 8:00 के बीच बताया जा रहा है
     घटना की सूचना पर भालूमाडा पुलिस व  थाना प्रभारी स्वयं पहुंचकर मामले की जांच पड़ताल किए साथ ही FSL डॉक्टर ने भी आकर घटना का निरीक्षण किए इसके पश्चात शव को फंदे से निकालकर पंचनामा कर पीएम के लिए भेजा गया है।
     वही यह अंदेशा व्यक्त किया जा रहा है कि मृतक कुछ पारिवारिक तनाव में काफी समय से थे और शायद इसी तनाव के कारण उन्होंने यह कदम उठाया होगा क्योंकि मृतक के पास से एक 5 पन्ने का सुसाइड नोट भी बरामद किया गया है जिसमें कुछ पारिवारिक कारणों का लेख है हालांकि पुलिस ने सुसाइड नोट को जप्त कर लिया है और उसकी प्रमाणिकता की जांच की बात बताई गई है मृतक कालरी कर्मचारी थे और अगले ही मांह जुलाई में उनका रिटायरमेंट भी था परिजनों का भी मानना है की मृतक बहुत ही गंभीर और शांत व्यक्तित्व वाले इंसान थे और शायद अंदर ही अंदर उन्हें कुछ तनाव था और इसी तनाव के कारण उन्होंने इतना बड़ा कदम उठाया होगा।

Post a Comment

0 Comments