Header Ads Widget

Responsive Advertisement

लूट डकैती के फरार चार आरोपियों को भालूमाडॉ पुलिस ने किया गिरफ्तार

भालूमाड़ा- 31 मई 2020
सुरेश शर्मा 
✍✍✍✍
थाना भालूमाडॉ अंतर्गत ग्राम बरबसपुर सोन नदी पुल के पास छह नकाबपोश लोगो ने राजनगर के कालरी श्रमिक को रास्ता रोककर उसके साथ मारपीट करते हुए 23000 रुपए सहित उसके पास से अन्य सामग्री की लूट की घटना को अंजाम दिए थे।
 जिस पर फरियादी संजय कुमार राठौर पिता भैया लाल की शिकायत पर भालूमाडॉ थाने में मामला दर्ज किया गया था
         उक्त लूट डकैती जैसे गंभीर अपराधों पर पुलिस अधीक्षक द्वारा गंभीरता से लेते हुए कार्रवाई के निर्देश दिए गए थे।जिसमें पुलिस अधीक्षक एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक व साइबर सेल की मदद से 7 जुलाई को दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया था शेष चार आरोपी फरार थे  इन फरार आरोपियों की सघनता से तलाश करते हुए 10 जुलाई को चारों आरोपियों को पकड़ने में पुलिस ने सफलता पाई।
       थाना प्रभारी भालूमाडॉ आरएन आर्मो ने बताया कि उक्त मामले में अपराध क्रमांक 192/20 धारा 392, 397, 34ताहि कायम कर जांच की जा रही थी।
 जांच में पांच से ज्यादा आरोपियों के नाम होने पर धारा 395 एवं 201 बढ़ाई गई थी दो आरोपियों को पकड़ने के बाद फरार चारों आरोपियों को पकड़ने के लिए पुलिस अधीक्षक  के निर्देशन अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के मार्गदर्शन व साइबर सेल  तथा भालूमाडॉ पुलिस के द्वारा कई जगहों पर छापामार कार्यवाही की गई आरोपियों से संबंधित जानकारियां एकत्र की गई जिसमें साइबर सेल की महत्वपूर्ण भूमिका रही और जानकारी मिलने पर चारों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया आरोपियों के पास से 4 मोबाइल वारदात में उपयोग होने वाले दो मोटरसाइकिल बिना नंबर की हीरो होंडा डीलक्स एक नीली कलर और दूसरी लाल कलर सहित ₹4000 नगद बरामद किया गया है आरोपियों में सभी भालूमाडॉ थाना क्षेत्र के हैं जिसमें आरोपी मनोज सिंह गोंड़ पिता परमेश्वर उम्र 23 वर्ष को ग्राम करहनी थाना मरवाही छत्तीसगढ़ से पकड़ा गया, दूसरा आरोपी बाबूराम पनिका पिता भूप राम उम्र 22 वर्ष, तीसरा आरोपी पुष्पेंद्र गौतम पिता साधारण उम्र 24 वर्ष, चौथा आरोपी प्रेम सिंह पिता सरजू सिंह उम्र 23 वर्ष इन तीनों आरोपियों को अलग-अलग जगहों पर ग्राम शिकारपुर से गिरफ्तार किया गया है।
          जिन्हें न्यायालय में पेश किया गया थाना प्रभारी ने बताया कि सभी आरोपी 20 -24 साल के युवक हैं जिसमें एक आरोपी नाबालिक है यह सब अपने शौक मौज मस्ती के लिए लूट जैसे जघन्य अपराध करते थे और घटना को अंजाम देने के बाद कुछ दिनों के लिए गांव से बाहर चले जाते ,
संजय राठौर से ₹23000 जो लूटे गए थे उसमें से 4 हज़ार रूपये  जप्त किया गया है बाकी आरोपियों ने खर्च करना बताया है ।

Post a Comment

0 Comments