Header Ads Widget

Responsive Advertisement

हाई स्कूल परीक्षा परिणाम (एमपी बोर्ड) घोषित,लड़कियों ने मारी बाज़ी

67.20 प्रतिशत बालिकाएँ हुईं कक्षा 10 में उत्तीर्ण, तो वहीं 61.57 प्रतिशत बालक हुए सफल
ज़िले का पास प्रतिशत 64.66
शैक्षणिक वर्ष 2018-19 के परिणामों से इस वर्ष 5 प्रतिशत का हुआ सुधार

मंदाकिनी, ओम्, चंद्रप्रकाश, अंकिता, संजना, आफ़रीन एवं राधिका ने बनाई ज़िले की प्रावीण्य सूची में जगह
अनूपपुर/ जुलाई 4, 2020

मध्यप्रदेश हाई स्कूल परीक्षा परिणामों में इस वर्ष बालिकाओं ने बालकों को पीछे छोड़ दिया। शनिवार 4 जुलाई को घोषित परिणामों में अनूपपुर ज़िले का पास प्रतिशत 64.66 प्रतिशत रहा। शैक्षणिक वर्ष 2018-19 में  हाई स्कूल परीक्षा में छात्रों का पास प्रतिशत 59.20 प्रतिशत रहा था, इस प्रकार शैक्षणिक सत्र 2019-20 में सफल छात्रों के प्रतिशत में 5.46 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। उत्तीर्ण प्रतिशत के विषय में अनूपपुर ज़िला प्रदेश में 25 वें स्थान पर रहा।

      इस वर्ष ज़िले की 67.20 प्रतिशत बालिकाओं ने एवं 61.57 प्रतिशत बालकों ने हाई स्कूल परीक्षा में सफलता प्राप्त की है। उल्लेखनीय है कि हाई स्कूल परीक्षाओं हेतु कुल ज़िले में 9343 नियमित विद्यार्थी (4251 बालक एवं 5092 बालिकाएँ) पंजीकृत थे। जिनमे से 9188 विद्यार्थी (4145 बालक एवं 5043 बालिकाएँ) परीक्षा में सम्मिलित हुए। मंडल द्वारा घोषित परिणामों में 2549 बालक (1249 प्रथम श्रेणी, 1273 द्वितीय श्रेणी, 27 तृतीय श्रेणी) उत्तीर्ण हुए वहीं 3385 बालिकाओं (1691 प्रथम श्रेणी, 1663 द्वितीय श्रेणी, 31 तृतीय श्रेणी) ने परीक्षा में सफलता प्राप्त की। इस प्रकार कुल 5934 विद्यार्थी (2940 प्रथम श्रेणी, 2936 द्वितीय श्रेणी, 58 तृतीय श्रेणी) हाई स्कूल परीक्षाओं में उत्तीर्ण हुए।

      अनुसूचित जनजाति वर्ग के छात्रों का उत्तीर्ण प्रतिशत 59.71 (बालक 56.78 प्रतिशत, बालिका 61.98 प्रतिशत) रहा। अनुसूचित जाति वर्ग के छात्रों का उत्तीर्ण प्रतिशत 66.86 (बालक 63.59 प्रतिशत, बालिका 69.70 प्रतिशत) रहा। अन्य पिछड़ा वर्ग के छात्रों का उत्तीर्ण प्रतिशत 67.42 (बालक 63.87 प्रतिशत, बालिका 70.31 प्रतिशत) रहा। सामान्य वर्ग के छात्रों का उत्तीर्ण प्रतिशत 76.85 (बालक 72.53 प्रतिशत, बालिका 81.37 प्रतिशत) रहा।

       अनूपपुर ज़िले की प्रथम तीन की प्रावीण्य सूची में 7 छात्र छात्राओं ने जगह बनायी। ज़िले में प्रथम स्थान में 4 छात्र छात्राएँ रहे। मंदाकिनी पटेल (392/400), ओम् साहू (294/300), चंद्रप्रकाश प्रजापति (294/300) एवं अंकिता प्रजापति (294/300) अंक प्राप्त कर प्रथम स्थान पर रहे। द्वितीय स्थान पर संजना कुशवाहा (391/400) एवं आफ़रीन ख़ातून (391/400) रहीं। तृतीय स्थान पर राधिका केवट (390/400) रहीं। इस प्रकार प्रथम तीन स्थानो पर भी बालिकाओं का बोलबाला रहा, प्रथम 3 में शामिल 7 विद्यार्थियों में से 5 स्थान बालिकाओं ने हासिल कर ज़िले का नाम रोशन किया।

*सफल छात्रों को शुभकामनाएँ एवं परिणामों में सकारात्मक वृद्धि हेतु कलेक्टर ने की शिक्षकों की सराहना*

*कोरोना संक्रमण की वजह से वर्तमान शैक्षणिक वर्ष में चुनौतियाँ अधिक*

*शिक्षकों के साथ पालकों को भी करना होगा अतिरिक्त प्रयास*

कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने प्रावीण्य सूची में आए 7 विद्यार्थियों सहित सफल हुए सभी विद्यार्थियों को शुभकामनाएँ दी हैं, साथ ही ऐसे विद्यार्थी जो किन्ही कारणवश सफल नही हो पाए उन्हें निराश न होकर दोगुने उत्साह के साथ प्रयास करने के लिए कहा है। आपने कहा  जीवन बहुत लम्बा है, ऐसा कोई नही है जिसने कभी अपने जीवन के किसी पड़ाव में असफ़लता का सामना न किया हो, परंतु यह भी सत्य है कि इतिहास वही लिखते हैं जो गिरने के बाद उठने के लिए प्रयास करते हैं, इसलिए घबराएँ नहीं और पूरी ऊर्जा के साथ प्रयास में लग जाएँ। इसके साथ ही आपने शिक्षक समुदाय की परिणामो में सकारात्मक वृद्धि हेतु सराहना की है, परंतु यह भी कहा है कि मंज़िल अभी भी दूर है, प्रयास ज़ारी रखें। वर्तमान शैक्षणिक वर्ष कोरोना संक्रमण की वजह से और भी चुनौती पूर्ण है अतः इस वर्ष शिक्षकों के साथ पालकों अभिभावकों को भी अतिरिक्त प्रयास करना होगा।

Post a Comment

0 Comments