Header Ads Widget

Responsive Advertisement

पोंडापानी गांव में सड़क का बनना सही मायने मे आजादी का पर्व- रामचन्द्र नायडू(नईदुनिया प्रतिनिधि)

अनूपपुर-14-अगस्त 2020

ग्राम पोंडापानी को स्वतंत्रता दिवस पर खुशियों की सौगात मिल गई, इस बार यहां के ग्रमीणों को आजादी का अहसास हुआ, सही मायने मे यह उनके लिये आजादी का पर्व है। यह हम इसलिये बता रहे क्योंकि आजादी के इतने वर्षों बाद शुक्रवार को इनके गांव मे सड़क बननी शुरू हुई, जिसके लिये कई वर्षों से वे संघर्षरत रहे और आज कामयाब हुए, उनकी मेहनत रंग लाई। स्वतंत्रता दिवस के इस ऐतिहासिक क्षण मे मीडिया के साथ-साथ खाध मंत्री बिसाहूलाल सिंह व जिले के कलेक्टर चन्द्रमोहन ठाकुर, पीआरओ अंकुश मिश्रा आदि का विशेष सहयोग रहा जिन्होंने इस गंभीर विषय पर तुरंत संज्ञान लिया और गांव को सड़क से जोड़ा।

 स्वतंत्रता दिवस पर यह पोंडापानी गांव को एक नायाब तोहफा है कि ऐसे शुभअवसर पर हम आजादी की बधाई और शुभकानाएं देने के बजाय गांव मे गरीबों के चेहरे पर मुस्कुराहट लाएं ताकि दुबारा किसी गांव के बेटों को मां के बीमार होने पर खटिये पर अस्पताल न ले जाना पड़े। बता दें कि जिले के जनपद पंचायत जैतहरी अंतर्गत ग्राम पंचायत अमिलिहा, डोंगराटोला के पोंडापानी में बीते दिनों शोभा यादव की मां की तबियत बिगड़ी जिससे करीब दो किलोमीटर तक उन्हें खाट पर लिटा के कंधे पे उठाकर अस्पताल ले जाने के लिए मुख्य सड़क तक लाना पड़ा, जिसकी खबर मंगलवार व बुधवार तथा गुरुवार को सबसे पहले नईदुनिया अखबार मे प्रमुखता से प्रकाशित की गई थी कि आजादी के 70 वर्ष बाद भी गांव मे सड़क न होने के कारण बीमार को खाट मे रखकर अस्पताल ले जाना पड़ता है। जिसके बाद जिला प्रशासन के अधिकारी गांव गये, हाल जाना और परिणमत: सड़क बननी शुरू हो गई। जिला प्रशासन को साधुवाद ।

Post a Comment

0 Comments