Header Ads Widget

Responsive Advertisement

मध्यप्रदेश की जनता तोड़ेगी कमलनाथ का घमण्ड - शिवराज सिंह चौहान

प्रमिला सिंह ने छोड़ा कांग्रेस का दामन, पाली में मुख्यमंत्री की आम सभा मैं उमड़ा जनसैलाब 

अनूपपुर / 28 अक्टूबर 2020


कमलनाथ उद्योगपति हैं, उन्हे इसका अहंकार है। मध्यप्रदेश की जनता उनका यह अहंकार तोड़ने वाली है। कल एक नेता दिल्ली से आये थे,वो मुझे कमीना कहते हैं। मुझे कमीना,  नंगे,  भूखे घर का कहा जाता है । मुझे नालायक कहा जाता है । अनूपपुर उप चुनाव मे पाली में आयोजित आम सभा को संबोधित करते हुए उपरोक्त विचार मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने व्यक्त किये। उन्होंने कहा कि  कमलनाथ जी !  आपको उद्योगपति होने का घमण्ड है।  मध्यप्रदेश की जनता घमण्ड चूर करना जानती है।गरीबो की सेवा में जो आनंद मिलता है, कमलनाथ उसकी तुम कल्पना भी नही कर सकते। हम आनंद के लिए जनता की सेवा करते हैं। जनता के सामने घुटना टेक कर प्रणाम करने का आनंद ही कुछ और है, कमलनाथ जी इसे तुम क्या जानो । श्री चौहान ने तंज कसते हुए कहा कि 

छात्रों का फीस इस नंगे- भूखे ने भरी है....हां !  हम कमीने हैं । आपने तमाम कल्याणकारी योजनाएं बन्द कर दीं...हमने फिर शुरु की... हां ! हम कमीने हैं।  सेठ कमलनाथ तुमने कन्या विवाह योजना में झूठ बोला, संबल योजना बन्द कर दी। हम बेटियों का कन्यादान करते थे ।आप सेठ हैं, बेटियों की शादी हो गी, भांजे - भांजी आ गे,  पर तुम्हारा 51 हजार से ढेला नही आया। सेठ कमलनाथ !  आपने विधवा बहन से कफ़न के 5 हजार भी छीन लिया। हम कमीने हैं ! उसे फिर चालू कर दिया।


 

 मैं किसान के घर पैदा हुआ , क्या यह  मेरा अपराध है ? मीडिया के माध्यम से पूछ रहा हूं,  सेठ कमलनाथ  किसानों के सम्मान निधि की सूची भी नही भेजे।‌ हम कमीने हैं !  10 हजार रुपए हर साल किसान को देंगे। श्री चौहान ने चुनौती दी कि सेठजी जी जवाब दो !  कि गरीबो के मकान आपने क्यों नही बनने नही दिया ? हम कमीने हैं !  आने वाले तीन सालों के अंदर सभी गरीबो को पक्का मकान और नलजल की सुविधा दे देंगे। उन्होंने कहा कि वो राहुल की बात भी नही मानते है।  इमरती देवी के अपमान करते है,  राहुल गांधी ने माफी मांगी और कमलनाथ कहते हैं कि राहुल गांधी ने ऐसे ही कह दिया था।  मतलब राहुल गांधी भी नासमझ हैं !



मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह चुनाव बिसाहूलाल का नहीं, मेरा चुनाव है। बिसाहूलाल ने जो कार्य कहा , सब कर दिया। 

इससे पूर्व बिसाहूलाल सिंह ने कहा कि मुझे प्रसन्ता है, गर्व है अपने मुख्यमंत्री पर, जिन्होंने मेरे निवेदन पर 200 बिस्तर का अस्पताल, रेलवे ओवर ब्रिज के लिए 22 करोड़ दिया। फुनगा में उप तहसील की घोषणा किया ‌ मैं 40 साल में जो काम नही कर सका, वो 6 माह में शिवराज जी ने किया। उप चुनाव मीडिया प्रभारी मनोज द्विवेदी से प्राप्त जानकारी के अनुसार

मुख्यमंत्री की संवेदनशीलता का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि 

जब मेरी हड्डी टूटी , तब शिवराज सिंह मुख्यमंत्री थे।  उन्होंने अपने दो कैबीनेट मंत्री मेरे  पास अस्पताल भेजे। वो मेरे ऑपरेशन में 24 घण्टे खड़े रहे।  और दूसरी ओर दिग्विजयसिंह हैं !  जिन्हें 90 आदिवासी विधायक का समर्थन देकर मैने मुख्यमंत्री बनाया।   अर्जुन सिंह के विरोध के बावजूद वो देखने तक नही आये । ऐसे सीधे साधे है मेरे मुख्यमंत्री ।मध्यप्रदेश में जितना झूठ कमलनाथ ने बोला है, विश्व मे किसी नेता ने नही बोला। ना किसानों का कर्जा माफ हुआ ना बेरोजगारों को 4 हजार नही दिया कन्याओं को 51 हजार नही दिया। म प्र भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष रामलाल रौतेल ने बिसाहूलाल के पक्ष में चुनावी रैली को संबोधित करते हुए कहा कि हमेशा जब बिसाहूलाल जी भाषण में कहते है कि जब कमलनाथ जी के पास जाता था तो कहते थे कि हटो हटो और जब मैं विधायक था तो मैं जाता था तो शिवराज जी कहते थे कि आओ रामलाल आओ रामलाल ।ये अंतर है दो मुख्यमंत्रियों में ।हमारा मुख्यमंत्री कहता है कि आइये और कमलनाथ कहते है कि जाइये । श्री रौतेल ने जनता से अपील की कि  हमारा मुख्यमंत्री बना रहे , इसके लिये  3 तारीख को भाजपा को वोट देकर विजय बनाइये। 

मंच पर जयसिंहनगर की पूर्व विधायक प्रमिला सिंह ने कांग्रेस को बडा झटका देते हुए मुख्यमंत्री के सामने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। 

 इस अवसर पर सुश्री मीना सिंह, पूर्व मंत्री राजेन्द्र शुक्ला ,सांसद हिमाद्री सिंह, गणेश सिंह, मनीषा सिंह, रुपमति सिंह, ब्रजेश गौतम, राजेश पाण्डेय, बुद्धसेन पटेल, नरेन्द्र मरावी, सुदामा सिंह, दिलीप जायसवाल, अनिल गुप्ता,मिथिलेश पयासी, आशुतोष अग्रवाल, मनोज द्विवेदी  विक्रम सिंह, रामदास पुरी, आधाराम वैश्य,भूपेन्द्र सिंह, अरुण सिंह, जितेन्द्र सोनी,चन्द्रभान सिंह, तेजभान सिंह ,मुकेश पटेल , विष्णु मिश्र, सुनील मिश्रा, राम अवध सिंह, राजेश सिंह, चंडीकांत झा, चंद्रिका द्विवेदी, रामनारायण उर्मलिया, सुनील पटेल के साथ हजारों लोग उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments