Header Ads Widget

Responsive Advertisement

अभाविप ने प्रदर्शन कर फूंका छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री का पुतला

 कोतमा-17 दिसम्बर 2020



छत्तीसगढ़ कवर्धा में हुए नाबालिग जनजाति 14 वर्ष की छात्रा के साथ सामूहिक बलात्कार के मामले में जब पुलिस के रवैये पर सवाल खड़े होने लगे तब छत्तीसगढ़ एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने उस नाबालिक को न्याय दिलाने के लिए संवैधानिक तौर पर छात्रा को न्याय दिलाने लिए आवाज़ उठाई तो छत्तीसगढ़ की नाकारा सरकार के द्वारा समस्त कार्यकर्ताओं को गैर जमानती वारंट लेकर जेल में डाल दिया जिसके विरोध में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद कोतमा के कार्यकर्ताओं ने गाँधी चौक पर छात्रा को न्याय दिलाने व कार्यकर्ताओं को तुरंत रिहा करने की मांग को लेकर विरोध व धरना प्रदर्शन करते हुए छत्तीसगढ़ मुख्यमंत्री भूपेश बघेल का पुतला जलाया।

धरने में भाग संयोजक कल्याण मिश्र ने बताया कि छत्तीसगढ़ में मुख्यमंत्री जी ने इस घटना पर कोई ध्यान नहीं दिया, साथ ही जिस बहन के साथ अन्याय हुआ है उसे ही गलत साबित करने का प्रयास क्यों किया जा रहा है, एवं जब विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने घटना का विरोध कर छात्रा को न्याय दिलाना चाहा तो उनके साथ छत्तीसगढ़ सरकार की पुलिस ने लाठी डंडे बरसते हुए गैरजमानती वारंट पर जेल में डाल दिया,जो सरासर अन्याय है।



 जिसमें मुख्य रूप से नीतीश सिंह  -जिला संयोजक अनुपपुर ,सजल जैन -राष्ट्रीय कार्यकारणी सदस्य ,कल्याण मिश्र - भाग संयोजक कोतमा ,शिवम् तिवारी  नगर मंत्री ,आयुष रॉय नगर सह मंत्री बितल ब्योहार ,एस एफ डी प्रमुख शरद वर्मा, रवि सोनी आशुतोष सराफ, अमन गुप्ता, राज पटेल ,संस्कार जायसवाल  रूपेश बेगा, आदित्य सोनी (बिट्टू) लाल  ,यश ब्योहर  हिमांशु गुप्ता ,आयुष सोनी ,आदित्य मिश्र, ज्ञानेंद्र दुवेदी  मौजूद रहे ।

Post a Comment

0 Comments