Header Ads Widget

Responsive Advertisement

छात्रों का कहना है कि कलेक्टर सर पढ़ाना जारी रखें, एक बार में ही समझ आ जाते हैं कॉन्सेप्ट

कोरोना काल में कलेक्टर से भौतिक विज्ञान के गुर सीख रहे छात्र

अनूपपुर/ जनवरी 5, 2021



कोरोना संक्रमण के दौर में ऑनलाइन क्लासेस का महत्व और भी बढ़ गया है। कई बार यह देखने में आता है कि ऑनलाइन कक्षाओं में छात्रों को महत्वपूर्ण संशयों में अपने प्रश्न रखने में असुविधा होती है, और संशयों का समाधान न हो पाने पर अरुचि पैदा हो जाती है। जो कि लर्निंग आउटकम में बाधक है। इस बाधा को दूर करने के लिए ऑनलाइन क्लासेस के दौरान शिक्षक भी छात्रों से जुड़े रहते हैं एवं विद्यार्थियों के संशयों का समाधान करते रहते हैं, ताकि कोरोना संक्रमण काल में विद्यार्थियों को विधिवत रूप से शिक्षा प्राप्त होती रहे।


            यहाँ यह उल्लेख करना आवश्यक है कि कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर द्वारा जो कि शिक्षा को किसी भी क्षेत्र के विकास का अहम घटक मानते है, सतत रूप से कार्य कर रहे हैं। बोर्ड परीक्षाएँ हों, इंजीनियरिंग, मेडिकल संस्थानो की प्रवेश परीक्षाएँ हों अथवा युवाओं के रोज़गार हेतु प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी हो, सभी घटकों में कलेक्टर श्री ठाकुर के मार्गदर्शन एवं नेतृत्व में उल्लेखनीय कार्य हुए हैं।


            यहाँ तक कि वे स्वयं भी क्लासेस लेते है और उन्होंने भौतिक विज्ञान के कुछ कठिन कॉन्सेप्ट पर प्रायोगिक विडीओ लेक्चर भी बनाए हैं। कलेक्टर श्री ठाकुर के साथ-साथ ज़िले के उत्कृष्ट शिक्षकों द्वारा भी विडियो लेक्चर तैयार किए गए हैं। जिसका लाभ ज़िले के 50 स्मार्ट स्कूल के विद्यार्थियों को प्राप्त हो रहा है।


           शासकीय हाई स्कूल मौहरी के कक्षा-9 के छात्र आज जब भौतिक विज्ञान की ऑनलाइन क्लास कर रहे थे, तब स्वयं कलेक्टर श्री ठाकुर द्वारा तैयार प्रायोगिक विश्लेषण पर सभी विद्यार्थी स्तब्ध रह गए। क्लास जैसे जैसे आगे बढ़ी कलेक्टर के रोचक अन्दाज़ के अध्यापन ने सभी विद्यार्थियों को अपने साथ बाँध लिया। कक्षा के समापन पर छात्रों ने कहा उन्हें एक ही बार में सारे कॉन्सेप्ट समझ आ गए। बच्चों ने कलेक्टर श्री ठाकुर से अनुरोध किया है कि वे अपने बिज़ी शेड्यूल से अध्यापन के लिए अवश्य समय निकालें और अध्यापन कार्य जारी रखें। 


         कलेक्टर श्री ठाकुर ने बच्चों की इस अपील को स्वीकार कर कहा है कि वे कक्षा 9 के साथ-साथ कक्षा-10 के विद्यार्थियों के लिए भी प्रायोगिक विडियो बनाएँगे। आपने सभी विद्यार्थियों से अपील की है कि विद्या एक अमूल्य धन है, सभी विद्यार्थी पूर्ण मनोयोग एवं समर्पण से अध्ययन करें एवं प्रगति की राह पर सतत अग्रसर रहें।

Post a Comment

0 Comments