Header Ads Widget

Responsive Advertisement

रोमांचक फाइनल मैच में सिलीगुड़ी की टीम ने मेजबान जमुना कोतमा को हराकर खिताब में किया कब्जा

 भालूमाड़ा- 3 फरवरी 2021

  सुरेश शर्मा


बुधवार 3 फरवरी को नगर के मेजर ध्यानचंद खेल मैदान में स्वर्गीय लक्ष्मीनारायण स्मृति ऑल इंडिया फुटबॉल टूर्नामेंट 2021 के फाइनल मुकाबले में सिलीगुड़ी आसाम की टीम ने मेजबान लक्ष्मी स्पोर्टिंग क्लब जमुना कोतमा क्षेत्र को एक के मुकाबले दो गोल से हराकर खिताब पर अपना कब्जा जमाया।


फाइनल के इस रोमांचक मुकाबले को देखने के लिए वर्षों बाद भालूमाडॉ के खेल मैदान में दर्शकों की भारी भीड़ नजर आई और सबसे बड़ी बात यह रही कि दर्शकों का बहुत बड़ा समूह सिलीगुड़ी टीम को भरपूर समर्थन देते हुए मैच के अंतिम तक उनका हौसला आफजाई करते रहे और जैसे ही टीम ने इस मैच को जीता सारे दर्शकों ने टीम के खिलाड़ियों को कंधे में बिठा कर उनका स्वागत अभिनंदन करने लगे।

 26 जनवरी से जमुना कोतमा क्षेत्र के मेजर ध्यानचंद खेल मैदान में स्वर्गीय लक्ष्मीनारायण स्मृति ऑल इंडिया फुटबॉल टूर्नामेंट का शुभारंभ किया गया था जिस का समापन 3 फरवरी को फाइनल मुकाबले के साथ हुआ जिसमें सिलीगुड़ी की टीम एवं मेजबान लक्ष्मीनारायण स्टार्टिंग क्लब जमुना कोतमा क्षेत्र की टीम फाइनल में पहुंची थी।

         फाइनल मैच के शुभारंभ से पहले आयोजक समिति द्वारा महिला फुटबॉल टीम का प्रदर्शन मैच खिलाया गया जिसमें झारखंड की महिला टीम एवं शहडोल की महिला टीम के बीच शानदार फुटबॉल का आनंद दर्शकों ने लिया और इस मैच में दोनों ही टीमें अंतिम समय तक कोई गोल नहीं कर सकी थी और अंततः ट्राई ब्रेकर में शहडोल की महिला टीम ने विजय हासिल की।


 इसके बाद फाइनल मैच का शुभारंभ मुख्य अतिथि अनूपपुर के पूर्व विधायक रामलाल रौतेल के द्वारा किया गया मैच के प्रारंभ में ही मेजबान लक्ष्मी स्पोर्टिंग क्लब ने पहला गोल करते हुए अपनी बढ़त बना ली हालांकि इसके बाद खिलाड़ियों में और दर्शकों में काफी रोमांच देखने को मिला कारण की दर्शकों में सिलीगुड़ी टीम को भारी समर्थन मिल रहा था लेकिन मध्यांतर तक मेजबान लक्ष्मी स्पोर्टिंग क्लब 0-1 से आगे रही मध्यांतर के बाद जैसे खेल शुरू हुआ सिलीगुड़ी की टीम ने शानदार प्रदर्शन किया इस बीच मैदान में बैठे दर्शकों ने अपनी - अपनी टीम को सपोर्ट करने के लिए उन्हें गोल करने पर नगद राशि के पुरस्कार की घोषणा भी लगातार चलती रही कोई सिलीगुड़ी की टीम के लिए समर्थन करता नजर आया तो कोई मेजबान लक्ष्मी स्पोर्टिंग क्लब को लेकिन सिलीगुड़ी की टीम ने अपना शानदार खेल दिखाते हुए एक गोल करते हुए एक-एक की बराबरी कर ली और इसके बाद दोनों ही टीमों में जबरदस्त संघर्ष देखने को मिला और मैच समाप्ति के चंद मिनट पहले ही सिलीगुड़ी की टीम ने दूसरा गोल करते हुए अपनी बढ़त बना ली और मैच समाप्त होने पर सिलीगुड़ी ने मेजबान लक्ष्मी स्पोर्टिंग क्लब को एक के मुकाबले दो गोल से हराकर मैच को अपने नाम किया और जैसे ही निर्णायक की सीटी बजी वैसे ही स्टेडियम के चारों और दशकों का हुजूम सिलीगुड़ी की टीम की ओर दौड़ पड़ा हर कोई उनसे मिलकर उन्हें बधाई देना चाह रहा था वहीं कुछ लोगों ने खिलाड़ियों को अपने कंधे पर बिठा कर उनका मनोबल बढ़ाया और आज के इस नजारे को देखकर वर्षों पुरानी यादें ताजा हो गई कि जब इसी मैदान पर कोल इंडिया का गोल्ड कप टूर्नामेंट हुआ करता था तब भी यहां के दर्शक हमेशा से आने वाली टीमों का उत्साह वर्धन करते रहे उनका सम्मान करते रहे और आज यही भावना जमुना कोतमा क्षेत्र में एक बार फिर से नजर आई उन्होंने अपनी टीम से ज्यादा अतिथि टीमों का समर्थन करते हुए खेल की भावना को भी प्रदर्शित किया।

 हालांकि मेजबान युवा खिलाड़ियों ने शानदार खेल का जौहर दिखाया जिसकी प्रशंसा भी लोगों ने की।

        फाइनल मैच में खिलाड़ियों एवं दर्शकों के मनोरंजन के लिए सांस्कृतिक कार्यक्रम की सुंदर प्रस्तुति दार सागर स्कूल की छात्राओं द्वारा नृत्य के माध्यम से किया गया जिस की भी सराहना दर्शकों ने जमकर की।

        फाइनल मुकाबले में विराजमान अतिथियों के द्वारा सिलीगुड़ी के टीम को विजेता ट्रॉफी प्रदान की गई वहीं मेजबान लक्ष्मी स्पोर्टिंग क्लब को उप विजेता की ट्राफी प्रदान की गई सिलीगुड़ी की टीम के खिलाड़ी नंबर 10 को मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार प्रदान किया गया।

     कार्यक्रम में उपस्थित मुख्य अतिथि विशिष्ट अतिथि मंचासीन जनों ने भी आज के फाइनल मुकाबले की प्रशंसा करते हुए कहा कि यह आयोजन इस बात का प्रतीक है कि भालूमाडॉ में फुटबॉल के प्रति लोगों में कितना लगाव है वर्षों बाद हुए इस आयोजन के लिए आयोजक सदस्य उनकी पूरी टीम बधाई के पात्र हैं जिन्होंने इतना शानदार खेल का आयोजन किया साथ ही साथ बताया गया कि यह आयोजन अब प्रतिवर्ष करने का प्रयास होगा और अगले वर्ष होने वाले टूर्नामेंट में और अधिक अच्छा करने का प्रयास भी किया जाएगा।

     इस टूर्नामेंट को सफल बनाने के लिए संरक्षक श्रीमती सुमन राजू गुप्ता नगर पालिका अध्यक्ष पसान, अशोक त्रिपाठी सिविल कांट्रेक्टर ,टूर्नामेंट के अध्यक्ष भागीरथी पटेल, उपाध्यक्ष इंद्र लाल केवट, सचिव आनंद राम केवट, सहित अनेक अतिथि गण जमुना कोतमा के पूर्व वरिष्ठ खिलाड़ी नगर के समाजसेवी वरिष्ठ जन आयोजन समिति के सदस्य सुरक्षा के लिए भालूमाडॉ पुलिस बल सहित मीडिया के लोग दर्शकों के रूप में बच्चे महिलाएं युवा बुजुर्ग सभी का सराहनीय योगदान रहा।

Post a Comment

0 Comments