Header Ads Widget

Responsive Advertisement

रोजगार मूलक शिक्षा आत्मनिर्भरता का मूल मंत्र -- हिमाद्री सिंह

 शहडोल सांसद ने की केन्द्रीय शिक्षा राज्य मंत्री से भेंट

अनूपपुर -15 फरवरी 2021



शहडोलल संसदीय क्षेत्र जनजातीय बहुल पिछडा होने के कारण यहाँ रोजगार के अवसर अपेक्षाकृत कम हैं । यह इस क्षेत्र की बड़ी समस्या है, जो श्रमिकों के पलायन का बड़ा कारण है। इससे निजात पाने के लिये रोजगार मूलक शिक्षा पर ध्यान देना होगा। 

  विगत दिवस शहडोल संसदीय क्षेत्र की लोकप्रिय सांसद श्रीमती हिमाद्री सिंह ने दिल्ली में केंद्रीय शिक्षा राज्यमंत्री श्री संजय धोत्रे से उनके कार्यालय में सौजन्य भेंट की । उन्होने इस अवसर पर शहडोल संसदीय क्षेत्र से संबंधित आवश्यक विषयों पर चर्चा की। भाजपा नेता तथा नमो एप के संभागीय संयोजक मनोज द्विवेदी ने बतलाया कि सांसद श्रीमती सिंह ने केन्द्रीय शिक्षा राज्य मंत्री श्री धोत्रे से सौजन्य भेंट के उपरांत उपरोक्त विचार व्यक्त करते हुए कहा कि इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय जनजातीय विश्वविद्यालय अमरकंटक सहित सभी उच्च शिक्षण संस्थानों में जनजातीय समाज सहित सभी वर्ग के लिये रोजगार मूलक शिक्षा की बहुत जरुरत है। रोजगार मूलक शिक्षा से युवा वर्ग तथा परिवार आत्मनिर्भर हो सकेंगे। यह आवश्यक है कि ऐसी शिक्षा पर सभी युवाओं का अधिकार हो एवं सरलता से उन्हे प्राप्त हो सके। श्रीमती सिंह ने केन्द्रीय मंत्री से उच्च शिक्षा से संबंधित अन्य महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा की। उल्लेखनीय है कि जनजातीय बहुल इस क्षेत्र से प्रति वर्ष रोजगार की तलाश में पलायन होता है। यदि लोगों को यहाँ के उपलब्ध संसाधनों एवं आवश्यकताओं के अनुरुप सरल ,सुलभ शिक्षा दी जाए तो रोजगार से जुड़ी बडी समस्या दूर हो सकती है। सांसद श्रीमती सिंह की इस सकारात्मक पहल का सभी ने स्वागत् किया है तथा उम्मीद जताई है कि केन्द्रीय मंत्री शहडोल सांसद के सुझावों पर अवश्य ध्यान देंगे।

Post a Comment

0 Comments