Header Ads Widget

Responsive Advertisement

जिले की बेटी चंपा से प्रधानमंत्री ने किया संवाद,चंपा ने बढ़ाया जिले का गौरव

चंपा के संघर्षों एवं कार्यों को प्रधानमंत्री महोदय ने अनुकरणीय बताया



अनूपपुर 12 अगस्त 2021

आत्म निर्भर नारी से संवाद कार्यक्रम अंतर्गत प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा मध्यप्रदेश के आदिवासी बाहुल्य जिले की आदिवासी बेटी चंपा सिंह से संवाद कर उनके द्वारा कृषि सखी के रूप में किये जा रहे कार्यों को अनुकरणीय और उनके जीवन संघर्षों को प्रेरणादायी बताया।


     प्रधानमंत्री जी ने मध्यप्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन अंतर्गत स्व सहायता समूह की सदस्यों से संवाद करते हुए नारी शक्ति को समाज मे परिवर्तन का वाहक बताया और कहा कि यदि नारी शक्ति ठान ले तो न सिर्फ वह अपने घर परिवार बल्कि समाज में सकारात्मक रूप से सामाजिक एवं आर्थिक परिवर्तन ला सकती हैं।


      विदित हो कि मध्यप्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन अनूपपुर अंतर्गत कृष्णा स्व सहायता समूह की सदस्य एवं कृषि सखी के रूप में अपनी सेवाएं प्रदान कर रही चंपा सिंह के जीवन मे बहुत सारे उतार चढ़ाव आये लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी और आजीविका मिशन से जुड़कर अपनी जीवन यात्रा प्रारंभ की और आज वह मुकाम हासिल किया कि प्रधानमंत्री जी से संवाद कर न सिर्फ जिले  बल्कि पूरे प्रदेश का गौरव बढ़ाया है। चंपा सिंह ने कृषि सखी के रूप में प्रशिक्षण प्राप्त कर न सिर्फ अपने जिले और प्रदेश में , बल्कि उत्तर प्रदेश, पंजाब और हरियाणा में 5 हजार से ज्यादा परिवारों को कम लागत कृषि तकनीकी और जैविक कृषि के विस्तार   हेतु प्रशिक्षण प्रदान किया है, जिससे परिवारों की आजीविका में उत्तरोत्तर वृद्धि हो रही है। कभी साल भर में 40 से 50 हजार आय अर्जित करने वाली चंपा आज 2.50 से 3.00 लाख रुपये सालाना आय अर्जित कर रही हैं।


    जिला परियोजना प्रबंधक शशांक प्रताप सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि जिला कलेक्टर सुश्री सोनिया मीना व जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री मिलिंद नागदेवे के नेतृत्व व मार्गदर्शन में जिले में 6698 स्व सहायता समूहों से 78810 परिवार जुड़े हुए हैं जो विभिन्न गतिविधियों से अपनी आजीविका सशक्त एवं संवहनीय बना रही हैं। समूहों द्वारा बनाये गए उत्पादों को ऑनलाइन आजीविका मार्ट पोर्टल के माध्यम से भी विक्रय किया जा रहा है, सम्पूर्ण प्रदेश में 3200 से ज्यादा आजीविका उत्पादों को 6 करोड़ 40 लाख रुपए में विक्रय किया जा चुका है , अकेले अनूपपुर ज़िले में 20 लाख रुपये से ज्यादा की बिक्री आजीविका मार्ट पोर्टल के माध्यम से की जा चुकी है।


   आज के कार्यक्रम में जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती रूपमती सिंह , राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन राज्य इकाई से राज्य परियोजना प्रबंधक, सामुदायिक संस्थागत विकास, सुश्री सुशमा मिश्रा, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री मिलिंद नागदेवे विशेष रूप से उपस्थित रहे।


    कार्यक्रम का समन्वय जिला इकाई के सदस्यों दशरथ झारिया, दीपक मोदनवाल, अंजू शुक्ला, दया दहिया व अनुराग सिंह चंदेल द्वारा किया गया। विकासखण्ड स्तर पर आयोजित कार्यक्रमों में ब्लॉक प्रबंधकों  सीमा पटेल, अश्विनी सिंह, दुर्गेश दहिया व रजनीश सिंह के द्वारा टीम मेंबर दिव्या सिंह, कोमल राठौर, संध्या मिश्रा, गीतांजलि गुप्ता, धीरेंद्र द्विवेदी, संदीप शर्मा, सुरेश कारपेंटर, रश्मि खान, शैलेन्द्र सिंह, संजय बिस्वास, अनुराधा सोनवानी, कनीज़ फातमा, मो तारिक, लक्ष्मी गुप्ता, अर्चि गुप्ता, कमल सिंह व तारा दास साहू के साथ सक्रिय भूमिका का निर्वहन किया गया।

Post a Comment

0 Comments