Header Ads Widget

Responsive Advertisement

प्रदेश में महिला सशक्तिकरण का प्रारंभ हो रहा नया युग- मुख्यमंत्री श्री चौहान

लाड़ली बहना योजना महिलाओं के जीवन बदलने का अभियान : मुख्यमंत्री श्री चौहान

मेरा सौभाग्य है कि मैं सवा करोड़ लाड़ली बहनों का भाई हूँ

छूटी हुई बहनों का किया जायेगा पंजीयन

10 तारीख को लाड़ली बहनों के खातों में जायेगी राशि

अनूपपुर ।9 अगस्त 2023






मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि महिला सशक्तिकरण का नया युग प्रारंभ हो गया है। बहनों के हित में सरकार द्वारा अनेक योजनाएँ संचालित की जा रही हैं। प्रदेश में शुरू की गई मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना केवल योजना ही नहीं, बल्कि बहनों का जीवन बदलने का अभियान है। मुख्यमंत्री लाड़ली बहना योजना ने महिलाओं को धनराशि दिलाने के साथ मन में विश्वास और आत्म-सम्मान भी बढ़ाया है। बेटी के बगैर जीवन-चक्र नहीं चल सकता है। इस बात को ध्यान में रखते हुए बालिका और महिला केन्द्रित महत्वाकांक्षी योजनाएँ मध्यप्रदेश सरकार ने शुरू की है। प्रदेश में इस योजना का लाभ एक करोड़ 25 लाख बहनों को मिल रहा है, जिनके बैंक खाते में प्रतिमाह की 10 तारीख को 1000 रूपये की राशि जमा कराई जा रही है। योजना के दूसरे चरण में 21 से 23 साल की बहनों का पंजीयन किया जा रहा है। छूटी हुई बहनों का पंजीयन किया जायेगा और लाडली बहना योजना का लाभ पात्र महिलाओं को दिलाया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान आज अनूपपुर में लाड़ली बहना सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे।



मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि लाड़ली बहनों की आँखों में आँसू नहीं आने दूँगा। सबके चेहरे पर मुस्कुराहट लाकर ही चैन से बैठूंगा। यह मेरा सौभाग्य है कि मैं सवा करोड़ लाड़ली बहनों का भाई हूँ। भाई ने सोचा कि साल में एक बार नहीं, हर महीने बहनों के खाते में राशि देना चाहिये। इसीलिये लाड़ली बहना योजना शुरू की। शुरूआत 1000 रूपये से की है, लेकिन धीरे-धीरे इसे बढ़ाकर 3000 रूपये किया जायेगा। महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त करने के लिए उनकी आमदनी प्रतिमाह 10 हजार रूपये तक करने का लक्ष्य है। उन्हें स्वावलंबी बनाने के लिए स्व-सहायता समूह से जोड़ा जा रहा है, साथ ही समूहों को कार्य भी दिये जा रहे हैं। बहना के हाथ में पैसा होने पर उनका घर और समाज में सम्मान बढ़ेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि बहनों 10 तारीख कल फिर आ रही है। आपके खाते में फिर रीवा जिले से राशि डाली जायेगी। 


मुख्यमंत्री किसान-कल्याण योजना की राशि 2000 रूपये बढ़ाई गई 


मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि छोटे किसानों की माली हालत सुधारने के लिये प्रधानमंत्री किसान सम्मान-निधि में 6000 रूपये की राशि 3 किश्तों में दी जा रही है। राज्य सरकार ने पहले 4000 रूपये की राशि अपनी ओर से किसानों के खाते में डाली, अब इसे बढ़ाकर 6000 रूपये किया गया है। किसानों के खाते में अब पूरे वर्ष 12 हजार रूपये की राशि डाली जा रही है।

बच्चों की पढ़ाई पर विशेष ध्यान 

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि राज्य सरकार ने बच्चों की पढ़ाई पर विशेष ध्यान दिया है। प्रतिभाशाली बच्चों को पढ़ाई के लिये प्रोत्साहित किया जा रहा है। बोर्ड की परीक्षा में 75 प्रतिशत अंक पाने वाले विद्यार्थियों को लैपटॉप के लिये 25 हजार रूपये की राशि दी गई है। जिन बच्चों ने अपने स्कूल में टॉप किया है, उन्हें स्कूटर और बालिकाओं को स्कूटी दी जा रही है। जो बच्चे गाँव से बाहर अन्य स्थान पर पढ़ने जाते हैं, उन्हें कक्षा 6 और 9 में प्रवेश पर साइकिल खरीदने के लिए 4 हजार 500 रूपये की राशि उनके खाते में उपलब्ध कराई जा रही है। प्रतिभाशाली बच्चे, जो देश के प्रतिष्ठित शिक्षण संस्थान में प्रवेश पाने में सफल हो जाते हैं, उनकी पढ़ाई का सारा खर्च राज्य सरकार उठा रही है।

 660 मेगावॉट क्षमता के पॉवर प्लांट का भूमिपूजन 

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि प्रदेश में विद्युत उत्पादन में निरंतर वृद्धि हुई है। भविष्य की आवश्यकताओं के अनुरूप बीते डेढ़ दशक में ऊर्जा उत्पादन में उल्लेखनीय वृद्धि की गई है। वैकल्पिक ऊर्जा स्रोतों का इस्तेमाल करते हुए सौर ऊर्जा, पवन ऊर्जा की इकाईयों को प्रारंभ करते हुए जल विद्युत क्षमता भी बढ़ाई गई है। इस क्रम में मंत्रि परिषद द्वारा अनूपपुर जिले में 660 मेगावॉट क्षमता के अमरकंटक थर्मल पॉवर प्लांट (चचाई) भूमि पूजन किया हूं। इस संयंत्र की प्रस्तावित लागत लगभग 5600 करोड़ रुपए है। इस संयंत्र के लिए राज्य शासन द्वारा की गई यह पहल भी इस दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। कार्यक्रम में प्रदेश की ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह, जनजातीय कार्य विभाग मंत्री सुश्री मीना सिंह, खाद्य एवं नागरिक उपभोक्ता संरक्षण मंत्री श्री बिसाहूलाल सिंह, अध्यक्ष कोल विकास प्राधिकरण मध्य प्रदेश श्री रामलाल रौतेल, पूर्व सांसद श्री ज्ञान सिंह सहित कमिश्नर शहडोल संभाग श्री राजीव शर्मा एवं कलेक्टर अनूपपुर श्री आशीष वशिष्ठ सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी एवं जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

Post a Comment

0 Comments