Header Ads Widget

Responsive Advertisement

जिला चिकित्सालय अनूपपुर में भर्ती मरीजों से प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री ने वीडियो कालिंग कर स्वास्थ्य सेवाओं की ली जानकारी

सिविल सर्जन ने जिला चिकित्सालय के संबंध में स्वास्थ्य मंत्री को दी जानकारी 

अनूपपुर । 



स्वास्थ्य सेवाओं और व्यवस्थाओं को चुस्त-दुरूस्त रखने के लिए मध्यप्रदेश शासन द्वारा मॉनीटरिंग को सख्त किया गया है। अस्पतालों में भर्ती मरीजों से वर्चुअल माध्यम से सीधे रू-ब-रू होकर प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी मोबाइल वीडियो कालिंग कर स्वास्थ्य के साथ ही उनको मिल रहे ईलाज आदि के संबंध में जानकारी प्राप्त की जाती है। इस तारतम्य में 4 सितम्बर सोमवार को स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने जिला चिकित्सालय अनूपपुर में भर्ती मरीज 40 वर्षीय राजमणि कोल पिता अर्जुन कोल, 46 वर्षीय सोनसाय केवट पिता स्वर्गीय रसिया केवट, 24 वर्षीय पूजा मिश्रा पति कृष्णकांत मिश्रा से मोबाइल वीडियो कालिंग के माध्यम से अस्पताल में भर्ती होने तथा उनके बीमारियों के संबंध में जानकारी ली गई। स्वास्थ्य मंत्री ने मरीजों से पूछा कि दवाईयां अस्पताल से मिल रही है या बाहर से खरीदना पड़ रहा है। भोजन मिल रहा है कि नही, साफ-सफाई कैसी रहती है, अस्पताल के दवाईयों से आराम मिल रहा है कि नही। जिस पर मरीजों ने बताया कि समय-समय पर जांच, ईलाज और देखभाल होता है तथा दवाईयां मिलती हैं। व्यवस्थाएं ठीक हैं। बाहर से किसी प्रकार की जांच नही करानी पड़ती और न ही दवाईयां खरीदनी पड़ती है। उन्होंने गर्भवती महिलाओं मरीजों से समय-समय पर होने वाली जांचों के संबंध में जानकारी ली, जिस पर मरीजों ने कहा कि उचित देखभाल, चिकित्सक और पैरामेडिकल स्टॉफ द्वारा पूर्ण सहयोग दिया जाता है। स्वास्थ्य मंत्री ने सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक डॉ. एस.आर. परस्ते से अस्पताल की स्वास्थ्य व्यवस्था का विवरण लिया गया। जिस पर डॉ. परस्ते ने बताया कि जिला चिकित्सालय में 20 चिकित्सा अधिकारी में से मात्र 6 चिकित्सा अधिकारी तथा 26 विशेषज्ञ चिकित्सक की जगह मात्र 7 विशेषज्ञ चिकित्सक की पदस्थापना है। रेडियोलॉजिस्ट, ईएनटी स्पेशलिस्ट, पैथालॉजिस्ट की पदस्थापना नही है। सोनोग्राफी की सुविधा एक सप्ताह से प्राईवेट रेडियोलॉजिस्ट के माध्यम से संचालित की जा रही है। दवाईयां पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने भर्ती मरीज पूजा मिश्रा से पूछा कि लड्डू मिलते हैं कि नही। स्वास्थ्य मंत्री द्वारा वीडियो कालिंग द्वारा मरीजों से बात करने के दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. ए.के. अवधिया, सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक डॉ. डा.एस.आर. परस्ते, जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आर.पी. सोनी, स्त्री रोग चिकित्सक डॉ. सोशन खेस, डॉ. शिवेन्द्र द्विवेदी सहित अन्य चिकित्सक एवं पैरामेडिकल स्टॉफ उपस्थित रहे। 

पिपरिया गांव के स्वास्थ्य सुविधाओं की स्वास्थ्य मंत्री ने ली जानकारी

प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने जिला मुख्यालय के समीपी गांव पिपरिया के सीएचओ तथा आशा कार्यकर्ता से वीडियो कॉलिंग कर ग्राम के स्वास्थ्य संबंधी व्यवस्थाओं की जानकारी ली गई।

Post a Comment

0 Comments