Header Ads Widget

Responsive Advertisement

रेत का अवैध परिवहन कर रहे दो ट्रैक्टर ट्राली जब्त

 रेत का अवैध परिवहन कर रहे दो ट्रैक्टर ट्राली जब्त





अनूपपुर।जिला मुख्यालय के सोन नदी तट से रेत का अवैध उत्खनन और परिवहन हो रहा है। कई शिकायतों के बाद कोतवाली पुलिस ने रविवार की रात सूचना मिलने पर बरबसपुर में पहुंच कर अलग-अलग स्थान से दो ट्रैक्टर ट्राली को अवैध उत्खनन मामले में पकड़ा। 

पुलिस प्राप्त जानकारी अनुसार मानपुर तरफ से एक बिना नंबर की सोल्ड ट्रैक्टर ट्राली जिसमें रेत लोड थी सीतापुर बरबसपुर गांव की तरफ बिक्री करने हेतु आ रहा था। मुखबिर की सूचना मिलने पर गवाह लेकर पहुंचे तो मानपुर प्राथमिक पाठशाला के पास सोन नदी की तरफ से बिना नंबर की ट्रैक्टर आती दिखाई दी जिसे रोका गया। वाहन में रेत लोड थी। चालक ने अपना नाम विनोद  चर्मकार 27 वर्ष निवासी ग्राम मानपुर बताया गया। यह रेत सोन नदी से उत्खनन करने के बाद भरकर वाहन में लाई जा रही थी। इस मामले में चालक के विनोद चमत्कार एवं वाहन मालिक रामसोरथ चर्मकार दोनों के खिलाफ कार्रवाई की गई तथा वहां को अभिरक्षा में लिया गया ।

ठेका होने के बाद भी रेत चोर सक्रिय- बताया गया ट्रैक्टर ट्राली में लगभग तीन घन मीटर रेत लोड था जिसकी अनुमानित कीमत पांच हजार बताई गई।इसी तरह दूसरी कार्यवाही में एक और बिना नंबर की नई ट्रैक्टर ट्राली को रेत का अवैध परिवहन करते हुए रविवार की रात को पकड़ा गया।बताया गया रेत खदान के समीप सोन नदी से रेत अवैध तरीके से वाहन में लेकर लाई जा रही थी। पुलिस स्टाफ की मदद से ट्रैक्टर को रोका गया बताया गया ट्रैक्टर के चालक ने पुलिस को देखकर लोड रेत को हाइड्रोलिक से उठाकर रोड किनारे गिरा दिया। बावजूद ट्राली में रेत रह गई थी।उक्त वाहन के ट्रैक्टर चालक का नाम रमेश चर्मकार 29 वर्ष निवासी ग्राम मानपुर है तथा वाहन मालिक का नाम रामकुमार चर्मकार बताया गया। पकड़ी गई ट्रैक्टर का नंबर एमपी 65 एए 4856 है। पूछताछ में वाहन चालक ने बताया कि सो नदी से रेत ट्रैक्टर में लोड कर सीतापुर बरबसपुर बिक्री करने हेतु ले जा रहा था। चालक के पास रेत परिवहन से संबंधित दस्तावेज टीपी  प्रस्तुत नहीं किए गए।तब पुलिस ने गवाहों के समक्ष ट्रैक्टर ट्राली को जब्त की। बताया गया कि सोन नदी के मानपुर क्षेत्र में रेत का ठेका हो चुका है बावजूद इसके अवैध तरीके से कई लोग माफिया के साथ मिलकर रेत के अवैध कारोबार में संलिप्त हैं।

Post a Comment

0 Comments