Header Ads Widget

Responsive Advertisement

बिजुरी थाना क्षेत्र में पुलिसकर्मी ही बना पुलिस के काम में बाधा

बीते 7 वर्षों से पदस्थ आरक्षक चालक, पुलिस के पहुंचने से पहले ही माफियाओं तक पहुंच जाती है, पुलिस के आने की खबर

बिजुरी। 


बिजुरी थाने में पदस्थ एक पुलिसकर्मी पुलिस के कार्य में बाधा बन गया है। यह पुलिसकर्मी बीते 7 वर्षों से बिजुरी थाने में पदस्थ है जिसके कारण थाना क्षेत्र में इसकी गहरी पैठ बन चुकी है। जिसके कारण अब इस पुलिसकर्मी का माफियाओं से डायरेक्ट कनेक्शन बन जाने की वजह से यह पुलिस के काम में ही बाधक बनकर रह गया है ।

बीते 7 वर्षों से थाने में पदस्थ है यह पुलिसकर्मी

बिजुरी थाना क्षेत्र में आरक्षक चालक के पद पर पदस्थ पुलिसकर्मी बीते 7 वर्षों से पदस्थ बताया जा रहा है। नियमतः 3 वर्ष के पश्चात थाना क्षेत्र से अन्य थाना क्षेत्र में पदस्थ किया जाना चाहिए लेकिन बीते 7 वर्षों से इसके पदस्थ रहने के दौरान विधानसभा चुनाव के साथ ही दोबारा लोकसभा चुनाव होने को है लेकिन बिजुरी थाना क्षेत्र में इसके अंगद की तरह पैर जम जाने के कारण अधिकारियों के द्वारा भी इसका स्थानांतरण नहीं किया जा रहा है।

माफियाओं तक पुलिस के पहुंचने से पहले ही पहुंच जाती है खबर

थाना क्षेत्र में लंबे समय से जमे होने के कारण इस पुलिसकर्मी के संबंध लगभग सभी लोगों से बन चुके हैं ऐसे में इसके इस मधुर संबंध के कारण थाना क्षेत्र में कानून व्यवस्था तथा अपराधों की धर पकड़ प्रभावित हो रही है। जिसके कारण माफियाओं के अड्डे तक पुलिस के पहुंचने से पहले ही पुलिस के आने की खबर पहुंच जाती है जिसके कारण थाना क्षेत्र में अपराध बढ़ते ही जा रहे हैं।

रेत,कोयला,कबाड़ ,शराब सभी ठिकानों पर दस्तक, सुविधा शुल्क न मिलने पर हो जाती है कार्यवाही

यह पुलिसकर्मी अब बिजुरी थाना क्षेत्र में नासूर बनता जा रहा है जिसकी दस्तक रेत, कोयला ,कबाड़, शराब के साथ ही सभी अवैध कारोबार में है। यदि संबंधित पुलिसकर्मी की मांगे पूरी नहीं होती है तो अधिकारियों के कान भरने के साथ ही उस पर कार्यवाही करने की बात भी कही जाती है। इसके साथ ही संबंधित पुलिसकर्मी का डीजल के अवैध कारोबारी के साथ मधुर संबंध भी पूरे नगर में चर्चा का विषय बना हुआ है।


पुलिस अधीक्षक, एडीजी और कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्री से कार्यवाही की मांग


इस मामले में बिजुरी नगर वासियों ने पुलिस अधीक्षक तथा एडीजी के साथ ही कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्री दिलीप जायसवाल से पुलिसकर्मी का अन्यत्र स्थानांतरण किए जाने की मांग की गई है। बिजुरी नगर कुटीर एवं ग्रामोद्योग मंत्री दिलीप जायसवाल का गृह नगर भी है ऐसे में इस पुलिसकर्मी की वजह से नगर में कानून व्यवस्था पूरी तरह से फेल होती जा रही है। जिसको देखते हुए नगर वासियों ने मंत्री जी से तथा पुलिस अधीक्षक से इस पर अति शीघ्र कार्यवाही करते हुए स्थानांतरण किए जाने की मांग की है।

Post a Comment

0 Comments